धारा 398 खतरनाक हथियारों के साथ डकैती की कोशिश |Section 398 IPC In Hindi

398 Ipc – जब कोई आदमी या कोई गिरोह किसी खतरनाक या धारदार हथियार या ऐसा हथियार जिस से किसी की जान जाने का खतरा ज्यादा हो के सहारे कहीं डकैती की कोशिश करता है उस पर 398 Ipc के अनुसार केस दर्ज किया जाता है। आज के समय अगर देखा जाए तो हर जगह अपराध बढते जा रहे है। चोरी और डकैती तो एक आम सी बात हो गई है। लोग हथियारों के दम पर किसी को भी डराकर उसको लूट लेते है। कुछ समय पहले ये ज्यादा तर शहरी क्षेत्रों में होता था पर आज कल ये सब जगह हो रहा है।

लुटेरे बहुत आसानी से किसी को लूट लेते है। पर हमारे भारतीय कानून में इसकी बहुत बड़ी सजा है। हथियारों के दम पर लूट की कोशिश करने वालों पर 398 Ipc के तहत करवाई की जाती है। आज हम इस लेख के माध्यम से धारा 398 के बारे में अच्छे से जानेंगे जैसे ये कब लागू होती है, क्या सजा मिलती है बेल होती है या नहीं और बाकी करवाई के बारे में जानेंगे

398 ipc in hindi

क्या है धारा 398 | Section 398 ipc in hindi 

आज कल डकैती और लूटपाट बहुत ज्यादा हो गई है क्योंकि गलत सोच और असुर प्रवृति के लोग डकैती को एक आसान रास्ता समझते है पैसा कमाने का, जब कोई गैंग या कोई अकेला व्यक्ति किसी धारदार हथियार जैसे की तलवार, कुल्हाड़ी या चाकू या किसी पिस्टल, कटे या कोई और हथियार जिस से किसी की जान जा सकती है की मदद से या साथ ले कर डकैती की कोशिश भी करता है उस पर 398 Ipc के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया जाता है और आगे की करवाई की जाती है। आसान शब्दों में कहें तो खतरनाक हथियारों के दम पर लूट पाट की कोशिश करने वालों पर 398 Ipc लागू होती है।

धारा 398 की आवश्यक बातें

  1. लुटेरों के पास कोई खरतनाक हथियार होना चाहिए जिस से किसी की जान जाने का खतरा हो।
  2. लुटेरों ने किसी को लूटने की कोशिश की हो।

सजा | Punishment in 398 ipc 

जब किसी पर 398 आईपीसी का आरोप सिद्ध हो जाए तो उस आदमी को 7 साल की कठोर कारावास का प्रावधान है। 398 Ipc के साथ धारा 34 भी लग सकती हो अगर किसी ने ग्रुप बना कर किसी डकैती की कोशिश की हो। 

जमानत | Is Ipc 398 bailable or not

खतरनाक हथियारों को कैरी कर के लूटपाट की कोशिश करने वाले अपराध एक संज्ञेय अपराध है जिस की कोई जमानत नहीं है। इस में कठोर कारावास होना तय है। और इस में किसी प्रकार के समझौते का कोई ऑप्शन नहीं है। इस में पुलिस बिना किसी वारेंट के अपराधी को अरेस्ट कर सकती है।

398 ipc in hindi

यह सब Section 398 IPC In Hindi के बारे में है, हमें उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी होगा। यदि आपको कोई संदेह है तो कृपया बेझिझक हमें टिप्पणी करें। यदि आप पर 398 ipc लगाई गई है तो कृपया यथाशीघ्र अपने स्थानीय वकील से संपर्क करें। वकील मामले में आपका उचित मार्गदर्शन करेगा। अधिक आईपीसी अनुभाग पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट localhindi.com पर जाएं|

2 thoughts on “धारा 398 खतरनाक हथियारों के साथ डकैती की कोशिश |Section 398 IPC In Hindi”

Leave a Reply

Heart Attack आने से पहले शरीर देने लगता है ये 9 संकेत आईये Margao, Goa के बारे में जाने Dearborn Michigan USA के शहर में क्या है खास गौरव तनेजा राम मंदिर की विशेष जानकारी जो आप नहीं जानते